SEO क्या है – SEO की पूरी जानकारी हिंदी में

नस्कर दोस्तों आज का टॉपिक हमारे उन लोगो के लिए है जो अपने ब्लॉग को गूगल में रैंक कराना चाहते है  What is SEO in Hindi, SEO क्या है और SEO कैसे करे तो आज हम इस पोस्ट में इसी के बारे में बात करने वाले है। और आप सभी लोगो के seo से related सारे doubt खत्म हो जाएंगे। तो इन सभी question के answer के लिए आपको ये पोस्ट पूरा पढ़ना होगा। अगर आपको अपने वेबसाइट और ब्लॉग को गूगल या फिर किसी भी search engine पर टॉप में रैंक कराना चाहते हो तो आपको seo की मदद लेनी ही पड़ेगी। तभी आप किसी भी सर्च इंजन पर आसानी से रैंक कर सकते हो। गूगल पर अपनी वेबसाइट को रैंक कराने के बहोत ही सारे फैक्टर है। मगर इनमे से seo ही सबसे बेस्ट है और सबसे जल्दी रिजल्ट देने वाला तरीका है। आप search engine optimization की मदद से आप अपने वेबसाइट पर organic ट्रैफिक ला सकते हो। जिसके लिए सभी लोग परेशान होते की वो लोग भी अपने वेबसाइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक ला सके। 

SEO क्या है

Search Engine Optimization एक बहोत ही अच्छा जिससे आप अपने बिज़नेस को organically ग्रो कर सकते हो बिना किस इन्वेस्टमेंट है। इसके लिए आपको SEO के कुछ नियम जानने होंगे। और इसके बारे में अच्छी जानकारी लेनी होगी तभी आप अपने competitor को आसानी से सर्च इंजन पर पीछे छोड़ सकते हो। अगर आपने अच्छी तरीके से SEO नहीं सीखा तो ये आपको बहोत पीछे ले जा सकता है। तब आप अपने competitor को कभी भी आगे हो 
SEO करने के बहोत सारे तरीके है। मगर मैं जो तरीके और रूल बताने वाला हो की जिससे आप बहोत जल्दी इंटरनेट पर अपनी एक अलग पहचान बना सकते हो। ये सभी बाते जानने के लिए ये पोस्ट आगे तक जरूर पढ़े। तो चलिए हम आपको थोड़ा डिटेल ये बताते है की SEO क्या होता है और इसके फायदे

Read:- Digital Marketing क्या है पूरी जानकारी

SEO क्या है – What Is SEO In Hindi 

SEO (Search Engine Optimization ) एक organic ऐसा तरीका है जिससे आप अपनी वेबसाइट और ब्लॉग को सर्च इंजन में keyword और backlink की मदद से रैंक कराते हो जिसे हम इंटरनेट की दुनिया में SEO कहते है। 

SEO के लिए आपको गूगल के कुछ नियम को ध्यान में रख कर अपने वेबसाइट को रैंक कराना होता हो। यदि आपने गूगल में अल्गोरिथम के हिसाब से अपने वेबसाइट और ब्लॉग में चेंज या फिर नहीं मन तो इसके लिए सर्च इंजन आपकी वेबसाइट को spam केटेगरी में डाल देता है जिससे आप अपने वेबसाइट को गूगल में कभी भी रैंक नहीं करा सकते हो। 

SEO के अंदर दो तरीको में बाटा गया है । एक On-Page SEO और Off-Page SEO बिना इन दोनों के आप अपने वेबसाइट को गूगल पर रैंक नहीं करा सकते है। इसके बारे में हम आगे पोस्ट में जानेंगे। 

Techniques of SEO

  • White Hat SEO 
  • Gray Hat SEO 
  • Black Hat SEO 

White Hat SEO में जब हम अपने वेबसाइट के लिए seo करने जाते है तो इसके अंदर आपको गूगल के पुरे guideline के according अपनी वेबसाइट को डिज़ाइन और उसके अंदर चेंज करने पड़ते है। जब हम गूगल के सारे rule को फॉलो करके seo करते है तो इसे White Hat SEO कहते है। 

Gray Hat SEO के अंदर हम अपने वेबसाइट में थोड़ा गूगल के guideline को कम फॉलो करते है। इसके अंदर आपके वेबसाइट पर गूगल penalty का खतरा हमेसा बना रहता है। जब हम गूगल के rule को थोड़ा कम फॉलो करते है तो उसे Gray Hat SEO कहते है। 

Black Hat SEO इसके अंदर हम गूगल के guideline को बिलकुल फॉलो नहीं करते है। ये बिलकुल गूगल के guideline के against होता है इसको गूगल 99% penalty देता है। इसको करने के लिए आपको अपने वेबसाइट और paise दोनों वेस्ट होते है। हाँ मगर इसका कुछ good इफ़ेक्ट भी आपको देखने को मिलता है। अगर आप अपने वेबसाइट पर ब्लैक हैट technique use करते हो तो आपकी वेबसाइट within 10 डेज के अंदर गूगल पर रैंक करती है। मगर जितनी जल्दी आती है उतनी ही जल्दी चली भी जाती है। तो इसलिए हमेसा safe seo करे। 

Read:- Internet से पैसे कमाने के तरीके In Hindi

SEO क्यों जरुरी है – Important Of SEO 

SEO के बिना आपकी वेबसाइट जैसे बिना पेट्रोल के गाडी जैसे हो जाती है। जैसे बिना पेट्रोल के आपकी गाड़ी बेकार यही वैसे ही आपकी वेबसाइट बिना seo के बेकार है। अगर आप इंटरनेट से organically अपने वेबसाइट और पर ट्रैफिक लाना चाहते हो तो आप बिना seo के नहीं ला सकते हो। 

गूगल की एक रीसर्च में पता लगा है की गूगल पर एक दिन में millions आर्टिकल पोस्ट है। इसके अंदर जिसके वेबसाइट और ब्लॉग को अच्छे से SEO किया होगा उन्ही के वेबपेज के चांस ज्यादा बढ जाते है। गूगल में रैंक करने के तो इसी लिए आपको अपने वेबसाइट और ब्लॉग के लिए seo जरुरी है। 

अगर आप अपने वेबसाइट और ब्लॉग को सच में seo के through रैंक करना चाहते हो तो आपको गूगल की बहोत सारी guideline को ध्यान में रख कर seo करना होगा। तभी आप अपने वेबसाइट को गूगल के फर्स्ट पेज में रैंक करा सकते हो। 

SEO कितने के प्रकार – Type of SEO in Hindi 

SEO दो प्रकार के होते है एक On-Page SEO और दूसरा Off-Page SEO इन दोनों में बहोत ही अंतर होता है। इन दोनों का काम अलग अलग होता है। वैसे ये दोनों ही आपके वेबसाइट के लिए बहोत ही जरुरी होते है तो चलिए इन दोनों के बारे में डिटेल्स में जानते है। 

On-Page SEO क्या है

ON-Page SEO के अंदर आप अपने वेबसाइट के अंदर काम करते हो। हम इसको सीधे भाषा में वेबसाइट के codding के अंदर काम करते है। अपने वेबसाइट को seo फ्रेंडली बनाते है। जिसके लिए आपको कुछ रूल्स को अपने ब्लॉग और वेबसाइट में अप्लाई करना होता है।

जैसे website design, Content, Heading, Keyword Setting, Meta Tags और भी बहोत सारे होते है जिन्हे आप on-page seo में use करते हो। तो चलिए जानते है की आप ON-Page SEO कैसे कर सकते हो और किन चीजों को use करके आप अपने On-Page SEO को अच्छा कर सकते हो। 
मैं यहाँ कुछ On-Page SEO के technique बताने जा रहा हूँ जिसे आप अपने वेबसाइट और ब्लॉग पर अप्लाई करके On-Page SEO और बेहतर बना सकते हो। 

  • Website Design – अपनी वेबसाइट को seo फ्रेंडली डिज़ाइन करे। 
  • Title Tag- Title tag में कीवर्ड को उसे करे और वेबसाइट का टाइटल 65 characters का हो। 
  • Meta Description – इसके अंदर भी आपको कीवर्ड का use जरूर करे और इसकी 150 characters का हो। 
  • Website Speed – वेबसाइट की लोडिंग स्पीड कम कैसे करे जानने के लिए लिंक पर क्लिक करे – Website की Loading Speed कैसे कम करे। 
  • Website Structure – अपने वेबसाइट का structure user फ्रेंडली बनाये जिससे यूजर को पढ़ने में कोई दिक्कत न हो। 
  • Website Favicon – अपने वेबसाइट में favicon का use करे। 
  • Mobile-friendly Website – अपनी वेबसाइट को mobile-friendly बनाये जो मोबाइल पर आसानी से खुल जाये। 
  • Keyword Density – अपने वेबसाइट में कीवर्ड डेंसिटी का पूरा ध्यान रखे ज्यादा कीवर्ड न डाले। 
  • Image Alt Tag – वेबसाइट के इमेज के alt tag में कीवर्ड use करे। 
  • URL Structure – अपने वेबसाइट के पेज का url structure search इंजन फ्रेंडली रखे। जिससे सर्च इंजन को कोई परेशानी न हो। 
  • Internal Links – अपने वेबसाइट में internal लिंक का use करे। 
  • Highlight Important Keyword – अपने वेबसाइट के कंटेंट में अपने कीवर्ड को highlight करे bold और itelic करके। 
  • Use Heading Tag – वेबसाइट में heading का खास ध्यान रखे जैसे H1, H2, H3, H4 
  • Google Sitemap – अपने वेबसाइट में सर्च इंजन के लिए sitemap का use करे XML और HTML sitemap का। 
  • Check Broken Links – अपने वेबसाइट में कोई भी ऐसा लिंक न हो जो error देता हो कोई broken लिंक न हो। 
  • Social Media Button – अपने वेबसाइट में social media का लिंक जरूर use करे। 
  • HTTPS- अपने वेबसाइट में सिक्योरिटी के लिए HTTPS का use जरूर करे। 
  • Robots.txt -वेबसाइट में robots.txt का use करे 

Off-Page SEO क्या होता है 

जैसे ON-Page SEO वेबसाइट के लिए बहोत जरुरी होता है वैसे ही Off-Page seo भी उतना ही जरुरी होता है। इसके अंदर आपको वेबसाइट के codding म कोई काम नहीं होता। इसको करने के लिए आपको कुछ link building या Backlink बनानी होती है। अगर आप लोग नहीं जानते हो की Backlink क्या होता है तो आप इस लिंक पर क्लिक करके जान सकते है। तो दोस्तों मैं आपको कुछ Off -Page SEO के important टेक्निक बताने जा रहा हूँ। जिसे आप use करके अपनी वेबसाइट के लिए बैकलिंक बना सकते हो। जो की बहोत ही इफेक्टिव है। 

Off-Page SEO Techniques 

  • Search Engine Submission :-  अपने वेबसाइट और ब्लॉग के लिए high PR वाली सर्च इंजन सबमिशन करे। 
  • Social Bookmarking Submission:- High Pr वाली बुकमार्किंग सबमिशन करे।
  • Directory Submission:- इसके अंदर भी आपको अच्छी और गूगल के डिरेक्ट्री में जाके वेबसाइट को सबमिट करे। 
  • Classified Post:- अपने country और location के according to classified पोस्ट करे।
  • Blog Commenting :- अपने वेबसाइट के topic के according ही उन्ही वेबसाइट पोस्ट पर कमेंट करे। 
  • Q&A Post:- Question और Answer वाली वेबसाइट पर Q&A पोस्ट करे। 
  • Guest Post:- अपने वेबसाइट के टॉपिक के अकॉर्डिंग ही guest post करे। 

आप इन सभी SEO टेक्निक्स को use करके आप अपने वेबसाइट और ब्लॉग पर आर्गेनिक ट्रैफिक ला सकते हो।

Read:- Backlink कैसे बनाये In Hindi

Organic-Inorganic ट्रैफिक क्या होता है 

Internet की दुनिया हम ट्रैफिक दो तरीको से लाते है। जिसे हम organic और inorganic ट्रैफिक कहते है। तो हम आपकी ये डाउट भी ख़तम कर देते है की Organic और inorganic Traffic किसे कहते है। 

अगर आप अपनी वेबसाइट और ब्लॉग पर seo और social मीडिया द्वारा फ्री ट्रैफिक लाते हो तो उसे हम Organic Traffic कहते है। 
अगर आप इंटरनेट से paid ट्रैफिक लाते हो चाहे वो google adwords और Social Media Ads के जरिये हो तो उसे हम Inorganic Traffic कहते है।

 Read:- Best Part-time Work कौन से है Student or Employee के लिए

Conclusion

मुझे उम्मीद है की आप सब को अब ये पता चल गया होगा की SEO क्या है -(What is SEO in Hindi ) अगर आप भी अपने वेबसाइट और ब्लॉग पर आर्गेनिक ट्रैफिक लाना चाहते हो तो आप मेरी बताई गई SEO Techniques को use करके अपने वेबसाइट पर ट्रैफिक ला सकते हो। आप आप किसी को भी आसानी से ये बता सकते हो की SEO क्या होता है। अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल या फिर कोई डाउट है तो आप हमे कमेंट करके पूछ सकते हो हम उसका उत्तर देने की पूरी कोशिस करेंगे। 

अगर आप को ये पोस्ट SEO क्या है अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को दुसरो की साथ शेयर कर सकते हो। जो भी SEO के बारे में जानना चाहते है। ये पोस्ट यहाँ तक पढ़ने के लिए आपका बहोत धन्यवाद है।

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!