MPIN Kya Hota Hai एमपिन कैसे बनाये करें

आज जानेंगे MPIN Kya Hota Hai एमपिन कैसे प्राप्त करें इस आर्टिकल में MPIN के बारे में विस्तार से बताया गया है। अगर आप Online mobile banking का प्रयोग करते हैं, तो आपको MPIN के बारे में पता होना बहुत ही जरूरी है, चलिए जानते हैं आज के समय में डिजिटलीकरण बहुत बढ़ गया है और सभी काम डिजिटल तरीकों से ही हो रहा है और डिजिटली ही हम पैसों का लेन देन भी बड़ी आसानी से करते हैं।

MPIN Kya Hota Hai

इसके लिए हमें अपने बैंक अकाउंट से Mobile number को connect करना होता है और फिर Mobile Banking से Transaction के लिए MPIN का प्रयोग होता हैं। दुनिया के साथ भारत में भी काफी चीजे डिजिटल होती जा रही है और इस डिजिटल दुनिया से लेनदेन करने का तरीका भी बदल गया है।

Read: Axis Bank Home Loan: लाभ, योग्यता, ब्याज दर और आवेदन प्रक्रिया

पहले लोग किसी चीज का लेनदेन करने के लिए खास धातु का उपयोग करते थे फिर सिक्के और कागज के नोट का उपयोग किये जाने लगा जो आज भी जारी है लेकिन भविष्य में आपको शायद ही कहीं सिक्के या नोट देखने को मिले क्योंकि लेनदेन करने के लिए अब लोग डिजिटल तरीकों का इस्तेमाल करने लगे हैं।

तो चलिए अब जान लेते हैं MPIN Kya Hota Hai और एमपिन का उपयोग कहाँ किया जाता है उम्मीद करते हैं आपको हमारा आर्टिकल पसंद आएगा।

MPIN Kya Hota Hai

MPIN की full form mobile banking personal identification number होती हैं। जब आप अपने मोबाइल से कोई भी transaction करते हैं, तो MPIN मुख्य रुप से आपके payment को security देता हैं, जिसमें MPIN एक code होता हैं, जो ATM के pin की तरह काम करता है, इसके बीना mobile banking संभव नहीं है।

MPIN 4 अंकों का एक security code होता हैं, जोकि कुछ बैंकों का 6 अंकों का भी हो सकता है, सिर्फ़ मोबाइल से लेन देन करने के लिए MPIN का प्रयोग किया जा सकता है। Mpin के code को सिर्फ आप तक ही सीमित रखना चाहिए, अगर किसी दूसरे व्यक्ति को आपके Mpin का पता हो, तो वह आपसे बिना पूछे आपके अकांउट को खाली कर सकते हैं, आप upi app के जरिए भी Mpin बना सकते हैं।

MPIN कैसे प्राप्त करें

अगर आप MPIN प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको कोई भी mobile banking app को डाउनलोड करके उसमें रजिस्टर कर लेना हैं, रजिस्टर करने के बाद आप अपने बैंक में जाकर अपनी user I’d और Mpin को बैंक अधिकारी से प्राप्त कर पाएंगे।अगर आप कोई upi app download करके रजिस्टर करते हैं, तो आप उनमें खुद का Mpin बनाकर प्रयोग कर सकते हैं।

MPIN का प्रयोग कहां किया जाता है

अगर आप मोबाइल का प्रयोग करके कोई भी transaction करते हैं, तो उसके लिए Mpin बहुत जरुरी हैं, इसका प्रयोग नीचे दिए गए transaction platform पर किया जा सकता हैं-

  • Mobile banking app
  • SMS banking
  • USSD banking
  • UPI apps
  • IVR
  • IMPS

MPIN क्यों जरुरी है

MPIN किसी भी Banking Transaction के लिए बहुत आवश्यक होता है, इसके जरिए ही आप Banking Transaction पर भरोसा जता पाते हैं, क्यूंकि यह आपकी Transaction को पूर्ण रूप से सुरक्षित रखती है।

जिस प्रकार ATM से रुपए निकालने के लिए एक pin का प्रयोग होता है, जिसके ज़रिए आपका account सुरक्षित रहता है, उसी प्रकार जब आप Mobile banking करते हैं, तो आपके Mobile number और MPIN का प्रयोग होता हैं।

Mobile banking को सुरक्षित रखने के लिए आपका मोबाइल नंबर सबसे महत्वपूर्ण होता है, इसीलिए जब आप Mobile banking का प्रयोग करते हैं, तो आपके अकाउंट में रजिस्टर किए गए नंबर से ही आप Mobile banking का प्रयोग कर पाते हैं।

Mobile banking को सुरक्षित रखने के लिए दूसरा तरीका Mpin ही है, Mpin के बिना आप कोई Transaction नहीं कर सकते और Mpin का code सिर्फ आपको पता होना चाहिए, इससे कोई दूसरा व्यक्ति आपके बैंक से Transaction नहीं कर पाएगा और आपका Mobile banking system पूर्ण रूप से सुरक्षित रहेगा।

MPIN का प्रयोग क्या है

Mpin एक security code जो मुख्य रूप से 4 अंकों का होता है, लेकिन कुछ कुछ बैंकों में यह 6 अंकों का भी हो सकता है, Mobile banking में उपयोग करके ही हम online Transaction कर पाते हैं। अगर कोई व्यक्ती Mobile banking में रजिस्टर करता तो वही इसका प्रयोग कर सकता है।

यह code बहुत ही sensitive हैं, इस code का पता सिर्फ आपको ही होना चाहिए, अगर किसी दूसरे व्यक्ति को इस code का पता चल जाता है, तो वह आपके बैंक अकाउंट से जितना मर्जी रुपए की Transaction कर सकता है और आपके बैंक अकाउंट को खाली भी कर सकता है।

Mpin code को सिर्फ याद रखना चाहिए या मोबाइल के किसी फोल्डर में लिख लेना चाहिए, इसे notebook में तो बिलकुल नहीं लिखना चाहिए, इससे कोई भी इसे आसानी से पढ़कर इसका गलत फायदा उठा सकता है।

Mobile Transaction में MPIN की आवश्यकता

MPIN का प्रयोग वित्तीय लेन देन के लिए किया जाता है, यह ATM pin की तरह एक pin है, जिसे Mpin कहा जाता हैं, जिस प्रकार atm pin का प्रयोग करके हम रुपए निकाल सकते है, उसी प्रकार Mpin की सहायता से Mobile banking को अधिक सुरक्षित बनाकर इससे Transaction की प्रक्रिया पुरी होती हैं।

Mobile banking को सुरक्षित रखने के लिए सबसे पहले आवेदक के उस phone number को two way authentication किया जाता है जो आवेदक के बैंक अकाउंट से जुड़ा होता हैं, उसके बाद आवेदक को Mpin मिलती है, जिससे account की safety बढ़ जाती हैं, अगर MPIN के बिना Transaction हो तो safety बिल्कुल नहीं रहती।

इससे आप समझ सकते हैं कि Mobile Transaction में Mpin की कितनी आवश्यकता होती हैं।

MPIN के क्या फायदे हैं

MPIN का mobile Transaction में बहुत लाभ होता हैं जो हमने नीचे बता रखा है –

  • Mpin एक code होता है, इससे Banking mobile Transaction बहुत ज्यादा सुरक्षित रहता है।
  • Mpin 4 या 6 अंकों का एक code होता है, इसे याद रखना और प्रयोग करना बहुत ही आसान है।
  • कोई भी व्यक्ति जिसका बैंक में account हो वह अपने मोबाइल से USSD और UPI App की सहायता से खुद Mpin बनाकर प्रयोग कर सकते हैं।
  • अगर किसी व्यक्ति का मोबाइल खो जाए, फिर भी आपका बैंक अकाउंट और mobile banking बिल्कुल सुरक्षित रहेगा क्योंकि Mpin के बिना Transaction करना संभव नहीं है।
  • Mpin को आवेदक अपने बैंक से आसानी से प्राप्त कर सकता है।

USSD से MPIN कैसे प्राप्त करें या कैसे बदलें

अगर आप ussd के सहारे MPIN लेना चाहते हैं तो यह भी संभव है, इसके लिए आपको नीचे बताएं गए steps follow करने पड़ेंगे-

  • अपने मोबाइल से सीधा MPIN प्राप्त करने के लिए सबसे पहले *99# dail करे।
  • *99# dail करने के बाद USSD सेवा शुरु होते ही इसे अपने बैंक से लिंक करें।
  • लिंक करने के लिए अपने बैंक के IFSE कोड के 4 नंबर डाले और बैंक के नाम के 3 अक्षर डाले और send कर दे।
  • उसके बाद नया menu खुल जायेगा फिर आपको 7 type करके send कर देना है।
  • फिर Mpin बनाने के लिए 1 नंबर send करे।
  • उसके बाद आपको 4 या 6 अंकों का कोई pin सोचकर done कर देना है फिर आपका mpin बन जाएगा,  यहीं से आप अपना mpin बदल भी सकते हैं।

MPIN को सुरक्षित रखें

एमपिन एक सेंसटिव code है, जिसे बिल्कुल गुप्त जगह लिखकर रखना चाहिए या इसे याद रखना चाहिए।

अगर आपके एक से ज्यादा मोबाइल बैंकिंग है, तो सभी मोबाइल बैंकिंग अकाउंट्स के अलग-अलग है Mpin होने चाहिए, इससे अगर किसी भी व्यक्ति को आपके एक मोबाइल बैंकिंग के code का पता चल जाए या एक account किसी प्रकार से hack भी हो जाएं तो भी आपके बाकी अकाउंट से पूरी तरह से सुरक्षित रहेंगे।

और इसके साथ ही आपको किसी भी व्यक्ति को MPIN नहीं बताना चाहिए, हर समय इस तरह के कैश आते रहते हैं, कि कुछ लोग फेक कॉल्स या sms के जरिए अपने आप को बैंक अधिकारी बताकर mpin ले लेते हैं और बैंक अकाउंट को खाली करके गायब हो जाते हैं।

आपसे कोई mpin मांगते हैं तो बिना चेहरा देखे या कॉल पर किसी को भी mpin नहीं बतानी चाहिए, चाहे वह खुद को आपका रिश्तेदार बताए या बैंक अधिकारी।

ये भी पढ़े –  SBI Bank KYC Online कैसे करे पूरी जानकारी

Conclusion

तो हमें उम्मीद है कि आपको पता चल गया होगा क MPIN Kya Hota Hai एमपिन कैसे प्राप्त करें अगर आपको जानकारी अच्छी लगी है तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करके लोगों तक पहुंचाइए और अगर आपको इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सुझाव या सवाल है, तो हमें Comment करके जरूर बताएं। अगर आप हर रोज नई जानकारी पाते रहना चाहते हैं, तो हमारे साथ जुड़े रहें ताकि हम आपकी life को knowledge से भर सकें।

MPIN FAQ

MPIN क्या होता है? MPIN 4 या 6 अंकों का एक code होता हैं, जिससे मोबाइल बैंकिंग को ज्यादा से ज्यादा सुरक्षा मिलती हैं और आपका अकाउंट सुरक्षित रहता है।

MPIN की फुलफॉर्म क्या होती है?

MPIN की full form “mobile banking personal identification number” होती हैं।

MPIN कैसे प्राप्त करें?

आप mobile banking apps में रजिस्टर करके MPIN को अपने बैंक अधिकारी से प्राप्त कर सकते हैं और आप चाहे तो खुद अपने mobile से UPI apps और ussd की सहायता से इसे खुद भी बना सकते हैं।

MPIN का प्रयोग कहां होता हैं?

MPIN का प्रयोग Mobile banking app, SMS banking, USSD banking, UPI apps, IVR, IMPS में किया जा सकता हैं।

MPIN कितने अंको का होता हैं?

यह 4 या 6 अंको का होता हैं।

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your email address will not be published.