Bounce Rate कैसे कम करें – How to Reduce Bounce Rate in Hindi

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज का हमारा टॉपिक है की Bounce Rate कैसे कम करें और Bounce Rate क्या होता है साथ में ये भी जानेगे की अगर बाउंस रेट ज्यादा हो तो इसके क्या नुकसान होते है। यदि आप एक ब्लॉगर या आपके पास एक वेबसाइट है तो आपको ये जरूर पता होगा की बाउंस रेट क्या होता है और सभी लोग इसको कम करने को क्यों कहते है। अगर आपको नहीं पता तो चिंता की कोई बात नहीं है। अभी आप बिलकुल सही जगह पर हो। आपको यहाँ पर इस सभी सवालों के जवाब मिलने वाले है। 

Bounce Rate कैसे कम करे

आपको बता दे की Bounce Rate एक ऐसा पैरामीटर है जिससे आप ये पता चलता है की आपके वेबसाइट पर लोगो का रिएक्शन क्या है। और वो आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर कितनी देर तक रुकते है। और आपकी ब्लॉग पर उनका व्यवहार कैसा है। अगर अच्छा या बुरा है तो आपको इसके बारे में बाउंस रेट से पता लगता है। अपनी वेबसाइट के बाउंस रेट को देख कर आपको अपने विजिटर के बारे में पता चलता है। 

Read:- Domain Authority कैसे बढ़ाये

आपको हम बता दे की बाउंस रेट बढ़ने के बहोत से फैक्टर होते है। जिसकी वजह से बाउंस रेट बढ़ता है जिसको अपने जिसके लिए आपको ये पता लगाना होता है की ये क्यों बढ़ रहा है। मगर आपको चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है। हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले है जिससे की आप पता लगा सकते हो की बाउंस रेट क्यों बढ़ रहा है और इसको कैसे काम करे। तो चलिए जानते है की Bounce Rate कैसे कम करें जानने के लिए आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना होगा। 

Bounce Rate क्या होता है – What is Bounce Rate in Hindi

आपको हम बता दे की Bounce Rate एक विजिटर की percentage होती है जिससे ये पता लगाए जाता है की आपके वेबसाइट पर विजिटर कितने देर दे लिए रुकता है। मतलब अगर कोई विजिटर आपके वेबसाइट पर विजिट करता है और सिर्फ होम पेज से ही वापस चला जाता है वो भी बिना किसी दूसरे पेज पर विजिट किये बिना। जिससे आपके वेबसाइट का बाउंस रेट बढ़ता है जिसे हम Bounce Rate कहते है। 

आपको बता दे की Bounce Rate एक google analytics टूल में देखा जाता है। यदि आप अपने वेबसाइट का बाउंस रेट देखना चाहते हो तो आपको सबसे पहले अपनी वेबसाइट को google analytics में add करना होगा। तभी आप वेबसाइट का बाउंस रेट चेक कर सकते हो। अब आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा की बाउंस रेट कितना होना चाहिए तो हम आपको बता दे की एक अच्छी वेबसाइट का बाउंस रेट 60% से जितना काम हो उतना ही अच्छा होता है। तो चलिए अब जानते है की 

Read:- Guest Post क्या होता है – Guest Post कैसे करे पूरी जानकारी

Bounce Rate कैसे कम करें – How to Reduce Bounce Rate in Hindi

तो दोस्तों अभी तक अपने जाना है की बाउंस रेट क्या होता है और इसकी परसेंटेज कितनी होनी चाहिए। लेकिन अब बारे है सबसे महत्वपूर्ण बात की Bounce Rate कैसे कम करे और इसको कम करने के क्या तरीके होते है। आपको बता दे की बाउंस रेट बढ़ने का सबसे मुख्य कारण होता है की। आपके विजिटर को आपका पोस्ट उसके मतलब का नहीं है या फिर आपके पोस्ट में दुसरो से अलग और भी बहोत फेक्टर है जो हम आपको आगे पोस्ट में बताने वाले है। तो चलिए जानते है की Bounce Rate कम करने के तरीके के बारे में जानने के लिए पोस्ट को आगे पढ़े। 

1 – Website Design

अगर आपको अपने विजिटर को अपने वेबसाइट पर ज्यादा देर तक रोकना है तो आपको सबसे पहले एक अच्छा वेबसाइट थीम को सलेक्ट करना होगा। जिससे आपके वेबसाइट का डिज़ाइन अच्छा होगा। जिससे देखकर आपका विजिटर जरूर आपके वेबसाइट पर रुकेगा। आपने ये तो सुना ही होगा की। “First impression is the Last impression.” तो ऐसा ही कुछ समझ लीजिये। 

2 – Quality Content

अगर अपने एक अच्छी वेबसाइट डिज़ाइन कर ली है तो अब आपको अपने कंटेंट की क्वालिटी पर भी ध्यान देना होगा। क्युकी विजिटर आपके वेबसाइट डिज़ाइन को देखकर रुक तो जायेगा। मगर उसको वहा पर अच्छी जानकारी नहीं मिली तो वो वापस नहीं आएगा। 

तो जब ही पोस्ट लिखे तो Quality Contant के साथ लिखे और कोशिश करे की आपका कंटेंट दुसरो से अलग हो। सबसे मिलता जुलता न हो। यही चीज विजिटर को अट्रैक्ट करती है और वो बार बार आपके साइट पर विजिट करता है। 

3 – Mobile-Friendly

आपने सब कुछ अपने वेबसाइट में अच्छा डाला है मगर यदि आपका वेबसाइट एक Mobile-Friendly नहीं है तो इससे भी विजिटर कम हो जाते है। क्युकी आज कल सभी के पास स्मार्टफोन है। जो की सभी लोग मोबाइल पर ही सर्च करते है। यदि आपके वेबसाइट Mobile-Friendly नहीं है तो वो आपके वेबसाइट पर क्लिक करके चले जायेगे। जिससे की बाउंस रेट बढ़ने के बहोत ही ज्यादा संभावना होती है। तो हमेसा Mobile-Friendly ही बनाये। 

4 – Website Loading Speed

यदि आपके वेबसाइट किसी भी browser पर load होने में बहोत ज्यादा टाइम ले रही है तो ये भी एक माइनस पॉइंट होता है आपके वेबसाइट के लिए। क्युकी आजकल सभी लोगो को सभी चीजे बहोत जल्दी चाहिए फिर वो कुछ भी हो। अगर आपके वेबसाइट का लोडिंग टाइम बहोत ज्यादा है तो विजिटर आपके वेबसाइट को छोड़ कर दूसरे की वेबसाइट पर चला जायेगा। जिससे आपके वेबसाइट का बाउंस रेट बढ़ जायेगा। 

यदि आपको नहीं पता है की Website की Loading Speed कम कैसे करे तो इस लिंक पर क्लिक करके जान सकते हो। हमने इसके बारे में पुरे विस्तार से बताया है यहाँ पर। 

5 – Interlinking 

Interlinking एक बहोत ही अच्छा तरीका है अपने विजिटर को एक पेज से दूसरे पेज पर ले जाने का। यदि कोई विजिटर आपके वेबसाइट पर विजिट करता है। और उसको उसी से रेलेटेड और पोस्ट दिखाई देते है तो वो उस लिंक पर क्लिक जरूर करेगा। और ऐसा करते करते वो आपके कई पेज पर विजिट करेगा। जिससे आपके वेबसाइट का बाउंस रेट काम होने के बहोत चांस होता है। तो पोस्ट लिखते समय हमेसा Interlinking जरूर करे। 

6 – Heading 

किसी भी पोस्ट को attractive बनाने के लिए Heading बहोत ही इम्पोर्टेन्ट रोले प्ले करता है। अगर अपने एक सिंपल पोस्ट डाली जिसमे जायदा अच्छी Heading का use नहीं किया है तो वो पोस्ट देखने में ज्यादा अच्छी नहीं लगेगी। जिससे आपका विजिटर वह रुकना बिलकुल पसंद नहीं करेगा। क्युकी उसको उस पोस्ट में कुछ समझ नहीं आएगा। तो इसलिए हमेसा सभी Heading का चुनाव करे। जिससे लोगो को समझने में आसानी हो। 

7 – Select Best Images

जितना आप कंटेंट से कुछ बता सकते हो उससे कही ज्यादा आप एक अच्छी इमेज दिखा कर लोगो को अच्छे से बता सकते हो। एक अच्छे कंटेंट के साथ आपको हमेसा अच्छी image भी अपने वेबसाइट में use करनी है। जिससे विजिटर का इंट्रेस्ट बना रहे। और वो आपके वेबसाइट पर ज्यादा देर कर रुका रहे। जिससे की आपका बाउंस रेट न बढे। 

8 – Choose Right Keyword 

आपके वेबसाइट में सब कुछ ठीक है अगर एक सही कीवर्ड नहीं है तो। आप बहोत सरे विजिटर को खो डोज। क्युकी अगर कोई विजिटर कोई गलत कीवर्ड सर्च करके आपके वेबसाइट पर विजिट करता है और उसको वहा पर वो जानकारी नहीं मितली है तो वो आपके वेबसाइट से तुरंत चला जायेगा। जिससे की आपके वेबसाइट का बाउंस रेट बढ़ जायेगा। तो हमेसा अपने पोस्ट में सही कीवर्ड चुने। 

तो दोस्तों अब आज जान चुके होंगे की Bounce Rate को कैसे कम करे। ये कुछ पॉइंट थे जिन्हे आपको ध्यान देना है। तो चलिए जानते यही की बाउंस रेट क्यों बढ़ता है। 

Read:- Google से पैसे कैसे कमाए की पूरी जानकारी

Bounce Rate बढ़ने के कारण 

तो दोस्तों अब आप ये जान गए होंगे की बाउंस रेट क्या होता है और इसको कैसे कम करे। लेकिन अभी आपको थोड़ी जानकारी और लेनी होगी। जिससे आप पहले ही ये गलतिया न करे की आपका बाउंस रेट बढ़ जाये। तो चलिए जानते है की Bounce Rate बढ़ने के कारण। 

  • Website का डिज़ाइन अच्छा न होना। 
  • Website में Quality Contant न होना और कॉपी पेस्ट कंटेंट। 
  • Website Mobile Friendly न होना। 
  • Website की loading speed ज्यादा होना। 
  • Website में अच्छे keyword न होना। 
  • Website का Heading सही से use न करना। 
  • Website में Interlinking न होना। 
  • अच्छी इमेज का use न करना। 

तो दोस्तों ये कुछ कारण होते ही जिनके कारण बाउंस रेट बढ़ते है। तो जब भी आप वेबसाइट या ब्लॉग बनाये तो इन बातों का जरूर ध्यान रखे। 

Conclusion 

मुझे उम्मीद है की अब आपको ये पता चल गया होगा की Bounce Rate कैसे कम करें और Bounce Rate क्या होता है और ये किन कारणो की वजह से बढ़ता है। यदि आपके भी किसी ब्लॉग या वेबसाइट का बाउंस रेट बढ़ रहा है तो आप इन पॉइंट को अच्छे से पढ़कर अपने वेबसाइट का बाउंस रेट कम कर सकते हो। 

यदि आपको इसके रेलेटेड कोई भी सवाल है तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते हो। हम उसका जवाब बहोत जल्द देते है। अगर आपको ये पोस्ट थोड़ी informative लगी है तो आप इस पोस्ट को दुसरो से साथ शेयर भी कर सकते हो। इस पोस्ट को पढ़ने एक लिए आपका बहोत धन्यवाद है। 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *